ज्योतिष दृष्टिकोण से जानिए कुंडली में सफलता का रहस्य

Secret Of Success
Loading Likes...

ज्योतिष दृष्टिकोण से जानिए कुंडली में सफलता का रहस्य

निम्नलिखित बिन्दुओ का अध्ययन करने के बाद हम किसी नतीजे पर पहुंच सकते हैं लेकिन उसके लिए  पहले हम कुंडली का विश्लेषण बारीकी से करेंगे.

धनयोग:- यदि कुंडली में जितने अधिक धन योग होंगे उतनी अपार धन-सम्पति होगी.

राजयोग:- यदि कुंडली में जितने अधिक राजयोग होंगे उतना जीवन में कम्फर्ट होगा.

गजकेसरी योग :- गुरु व चन्द्रमा की युति से बनता हैं. यदि कुण्डी में गजकेसरी योग हैं तो जातक धनी होता हैं वह ज्ञान से धनी हो या फिर वैभवशाली हो या हो सकता हैं वह संतुष्ट हो.क्यूंकि गुरु मतलब ज्ञान और चन्द्रमा मतलब दिमाग और यहाँ दोनों का संगम हैं.

रुचक योग:- यह योग कुंडली में मंगल ग्रह की स्थिति से बनता हैं यदि कुंडली में मंगल ग्रह मजबूत होगा तो हम उतने अधिक मेहनती होंगे व मेहनत से धन अर्जित करेंगे.

भद्रा योग:- यह योग कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति से बनता हैं यदि कुंडली में बुध ग्रह मजबूत होगा तो हम बोल कर व व्यापर करके धन अर्जित करेंगे.

हंस योग: यह योग कुंडली में गुरु ग्रह की स्थिति से बनता हैं यदि कुंडली में गुरु ग्रह मजबूत होगा तो हम हमारे जीवन में जो ज्ञान हमने अर्जित किया हैं हम उससे धन अर्जित करेंगे.

माल्वय योग:-यह योग कुंडली में शुक्र ग्रह की स्थिति से बनता हैं यदि कुंडली में शुक्र ग्रह मजबूत होगा तो हम हमारे जीवन में  किसी हुनर से धन अर्जित करेंगे.

शश योग:- यह योग कुंडली में शनि ग्रह की स्थिति से बनता हैं यदि कुंडली में शनि ग्रह मजबूत होगा तो हम हमारे जीवन में सरकारी नौकरी या किसी उच्च पद पर रहकर धन अर्जित करेंगे.

सबसे महत्वपूर्ण नोट:- वर्तमान समय में हमारी कुंडली में किस ग्रह की महादशा चल रही हैं व किस भाव का स्वामी हैं और वो कहा बैठा हैं इसका अध्ययन करेंगे और किसी नतीजे पर पहुंचेंगे.

Guruwani (Astrologer & Consultant)-9826736794

Astrolok is one of the best astrology institute where you can learn vedic astrology, marriage astrology, nadi astrology, horoscope matching through live vedic astrology classes. It is a free platform to write astrology articles. Become a part of it by registering at https://astrolok.in/my-profile/register/

 

Related Posts

Leave a comment